महाविद्यालय में छात्र शाखा के अंतर्गत उच्च शिक्षा विभाग के द्वारा जारी निर्देशों व पत्रों के अनुसार छात्र संघ का मनोनयन या चुनाव का कार्य सम्पादित किया जाता है . पूर्व में छात्र संघ प्रभारी प्राध्यापक का दायित्व डॉ. पी एल पटेल, डॉ. सुशीला गोयल, प्रो. डी के अम्ब्रेला ने संभाला. वर्तमान में प्रो. एम एल धीरही जी इस दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं. छात्र शाखा के लिपिक श्री संजय गुप्ता है, जो प्रवेश पंजी के संधारण के साथ-साथ टी सी जारी करने सम्बन्धी लिपिकीय कार्य करते हैं.

प्रवेश के अंतर्गत- प्रत्येक कक्षा के लिए अलग-अलग प्रभारी नियुक्त हैं, अथवा समिति बनी हुई है. प्रभारी से दस्तावेज परीक्षण उपरांत आई डी व शुल्क विवरण प्राप्त करने के बाद ही छात्र- छात्राएं https://www.onlinesbi.com/ के होम पेज में SB Collect के माध्यम से ऑनलाइन शुल्क का भुगतान करें, दो प्रति में रसीद प्राप्त कर एक प्रति अपने पास भविष्य के लिए सुरक्षित रखें और एक प्रति प्रवेश सम्बंधित समस्त दस्तावेज के साथ संलग्न कर कार्यालय में जमा करने के बाद ही प्रवेश सुनिश्चित होता है. ऑनलाइन एडमिशन के नोडल अधिकारी डॉ. आर के टंडन हैं . बी ए प्रथम वर्ष के विद्यार्थी विषय परिवर्तन के लिए डॉ टंडन से मिल सकते हैं .

महाविद्यालय में प्रवेश लेने के बाद मुख्य परीक्षा / सेमेस्टर अंतिम परीक्षा में सम्मिलित हो जाएँ, ऐसा नहीं होता, इसके लिए फिर से अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर के वेबसाइट से परीक्षा फॉर्म भरते हुए सीधे विश्वविद्यालय को शुल्क भुगतान करने के लिए  ऑनलाइन पेमेंट करते हैं. परीक्षा फॉर्म भरने से पहले स्नातक प्रथम वर्ष में अध्ययनरत छात्र/छात्राओं को और इस विश्वविद्यालय के अंतर्गत किसी भी कक्षा में पहली बार सम्मिलित छात्र/छात्रा को ऑनलाइन नामांकन फिर विश्वविद्यालय के निर्देशानुसार ऑनलाइन पंजीयन कराना होता है. प्रत्येक बार ऑनलाइन कार्य करने के उपरांत उसकी पावती/हार्डकॉपी महाविद्यालय में जमा करना अनिवार्य होता है.

छात्रवृत्ति सम्बन्धी समस्त ऑनलाइन का कार्य श्री मदन मल्होत्रा डाटा एंट्री ऑपरेटर करते हैं, इस सम्बन्ध में किसी भी तरह की समस्या के लिए इनसे मिलें.

पुस्तकालय से पुस्तकों के आगम व निर्गम का कार्य बुक लिफ्टर श्री अरुण यादव करते हैं,

परीक्षा से सम्बंधित कार्य  के लिए परीक्षा लिपिक श्री अरुण यादव, श्री संजय गुप्ता से मिलें एवं उस वर्ष के सम्बंधित पाली केन्द्राध्यक्ष से मिलें.