Spread the love

स्वीकृत पद – प्राध्यापक – 01 , सहायक प्राध्यापक – 03

कार्यरत –       03 नियमित सहा. प्रा.,

–       01 अतिथि प्रा. (प्राध्यापक पद के विरुद्ध).

Dr. R. K. Tandan, HoD

Prof. J. R. Kurre

Prof. D. K. Sanjay

Prof. Vinod Jangde, Guest Professor

प्राध्यापकों का परिचय

1. Dr. R. K. Tandan

2. Prof. J. R. Kurre

3. Prof. D. K. Sanjay

4. Prof. Vinod jangde

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१९

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१९

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१९

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१९

एम ए हिन्दी २०१७-१८

एम ए हिन्दी २०१८-१९

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१८

एम ए हिन्दी २०१८-१९

प्रो डी के अम्ब्रेला (हिन्दी) की विदायी

हिन्दी विभाग में शिक्षक दिवस ५ सितम्बर २०१८

हिन्दी दिवस १४ सितम्बर २०१८

कवि सम्मलेन २०१७-१८

सत्र २०१९-२० में एम् ए प्रथम व तृतीय सेमेस्टर  हिन्दी में .अध्ययनरत छात्र छात्राओं ने ०२ दिसंबर २०१९ को पी पी टी के माध्यम से अपना सेमिनार प्रस्तुत किया. रत्ना, कमलेश, लता, भुनेश्वरी आदि विद्यार्थियों ने टेक्नोलॉजी का प्रयोग करते हुए पीपीटी के माध्यम से अपने विषय की विस्तृत व्याख्या की.

०५ अक्टूबर २०१९ को एम् ए तृतीय सेमेस्टर हिन्दी के द्वारा एम् ए प्रथम सेमेस्टर हिन्दी के छात्र – छात्राओं के लिए स्वागत पार्टी रखी गई. कमलेश धिरहे, शोभा राजपूत, रत्ना माहेश्वरी, रेणुका महंत, निर्मला राठिया, माधुरी राठिया, लिलेश्वरी आदि के द्वारा आयोजित रिफ्रेशर पार्टी में लगभग सभी प्राध्यापक व कर्मचारी उपस्थित हुए. डॉ पी एल पटेल एवं डॉ आर के टंडन ने छात्रों को सम्बोधित किया.

०३ अक्टूबर २०१९ को डॉ आर के टंडन (विभागाध्यक्ष -हिन्दी), प्रो जे आर कुर्रे, प्रो दिनेश संजय व प्रो विनोद ने स्नातकोत्तर हिन्दी साहित्य परिषद् का गठन किया. कमलेश धिरहे को अध्यक्ष,रत्ना माहेश्वरी को उपाध्यक्ष,शैलेन्द्र सिंह को सचिव,माधुरी चौहान को सह सचिव मनोनीत किया  गया. कार्यकारिणी सदस्यों के रूप में माधुरी राठिया, निर्मला राठिया, रेणुका महंत, ईश्वर सिदार, जशवीर खड़िया, सुजाता महंत को चुना गया. कक्षा प्रतिनिधि तृतीय सेमेस्टर कु.शोभा राजपूत है.

विभाग में १४ सितम्बर २०१९ को हिन्दी दिवस मनाया गया . इस अवसर पर  प्रो एम एल धीरही, डॉ आर के टंडन (विभागाध्यक्ष), प्रो जे आर कुर्रे (मंच संचालक), प्रो दिनेश संजय, प्रो विनोद जांगड़े, रत्ना माहेश्वरी, माधुरी राठिया, जशवीर, भास्कर राठौर ने अपने विचार व्यक्त किए. शोभा राजपूत, कमलेश धिरहे, लता बंजारा, निर्मला राठिया,रेणुका महंत आदि ने कार्यक्रम का  आयोजन किया .